अक्षय कुमार ने कहा, ‘मुझे अपने इंसान होने पर शर्म आ रही है। एक छोटी सी छुट्टी बिताकर केपटाउन से लौटा हूं। आप सभी को नए साल की बधाई दी। अपनी बेटी को गोद में उठाए एयरपोर्ट से निकल ही रहा था कि टीवी पर एक खबर पर नजर पड़ी। बैंगलुरू में नए साल के जश्न में एक वहशियत का नाच देखा, खुलेआम सड़क पर… उसे देखकर आपको पता नहीं कैसा लगा लेकिन मेरा खून खौल उठा। एक बेटी का बाप हूं। अगर न भी होता तो शायद यही कहता कि जो समाज अपनी औरतों को इज्जत नहीं दे सकता उसे अपने आपको इंसानी समाज कहने का कोई हक नहीं है।’

खिलाड़ी कुमार ने कहा, ‘सबसे ज्यादा शर्म की बात ये है कि कुछ लोग सड़क पर चलती लड़की के साथ हुई छेड़छाड़ को भी जस्टिफाई करने की औकात रखते हैं। लड़की ने छोटे- कपड़े पहने क्यों? लड़की घर से बाहर गई क्यों? अरे शर्म करो यार…छोटे लड़की के कपड़े नहीं, छोटी आपकी सोच है। भगवान ना करें जो बैंगलुरू में हुआ है वो कभी आपकी बेटी या बहन के साथ हो जाए तो? ये बदतमीजी करने वालो लोग कहीं और से नहीं आए हैं। ये दरिंदे हमारे बीच में ही हैं। जिस दिन इस देश की बेटी ने पलट कर जवाब दिया ना उस दिन तुम्हारी अकल ठिकाने आ जाएगी। अकल ठिकाने नहीं सीधे ऊपर सिधार जाओगे।’

loading…


http://nationfirst.today/wp-content/uploads/2017/01/11.jpghttp://nationfirst.today/wp-content/uploads/2017/01/11.jpgnation_firstटॉप 10वीडिओअक्षय कुमार ने कहा, 'मुझे अपने इंसान होने पर शर्म आ रही है। एक छोटी सी छुट्टी बिताकर केपटाउन से लौटा हूं। आप सभी को नए साल की बधाई दी। अपनी बेटी को गोद में उठाए एयरपोर्ट से निकल ही रहा था कि टीवी पर एक खबर पर नजर...NATION FIRST TODAY