vvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvvv

आजकल की वयस्त और मानसिक तनाव भरी जिन्दगी  तथा उचित आहार के ऩा लेने का सीधा प्रभाव मानव के पर्सनल रिलेशन पर भी पडा हैं | मनुष्य की काम शक्ति तो मानो बहुत कम हो गयी हैं |ऐसा केवल पुरुषो के साथ नहीं बल्कि स्त्रिया भी इससे अछूती नहीं हैं |अक्सर देखा गया हैं यदि किसी वैवाहिक जोड़े को बिस्तर पर संतुष्टि नहीं मिलती तो उनका मन मानसिक विकारों से भर जाता हैं, जिसका प्रभाव उनके वैवाहिक जीवन के साथ  साथ उनकी शारीरिक शक्तियों पर भी साफ़ दिखाई देता हैं |

आयुवेद में महिलाओ की काम इच्छा और उत्तेजना की वृद्धि में सेब को अति लाभकारी माना गया हैं | यदि महिला हर दिन एक या दो सेब खाए, तब उनमे कभी काम इच्छा की कमी महसूस नहीं होगी |इसका कारण यह हैं की सेब के अंदर फ्लोरोजिन अधिक मात्र में मिलता हैं, यह फ्लोरोजिन महिलाओ के प्राइवेट पार्ट की ओर जाने वाले खून की रफ्तार में वृद्धि कर देता हैं, जिसके कारण काम इच्छा में बढ़ोतरी होना लाजमी हैं | रेड वाइन या चाकलेट में भी यह फ्लोरोजिन पाया जाता हैं | सीप का सेवन महिलाओ में काम इच्छा शक्ति बढाने में बहुत उपयोगी होता हैं | इसमें जिंक पाया जाता हैं, जो काम इच्छा संबंधी हार्मोन में बढ़ोतरी करता हैं |

यदि अंडे का सेवन किया जाये तब भी काम इच्छा में बढ़ोतरी होती हैं, क्योकि अंडे में B5 तथा B6 अधिक मात्रा में पाए जाते हैं, जो काम इच्छा शक्ति की वृद्धि के कारक होते हैं | हर रोज भोजन में अजवाइन अवश्य शामिल कीजिये | इसके अंदर कामोत्तेजना में वृद्धि का कारक एंड्रोस्टेरोन हार्मोनपाया जाता हैं | इस हार्मोन में कोई गंध नहीं होती, तथा यह काम इच्छा में गजब की वृद्धि करता हैं | तथा यह एक ऐसा पोषक तत्व हैं, जिसमे एवोकैडो फोलिक एसिड पोटैशियम व विटामिन बी6 बहुत अधिक मात्र में पाए जाते हैं, जो महिलाओ में गजब की काम शक्ति सुर उत्त्साह भर देते हैं |

loading…


http://nationfirst.today/wp-content/uploads/2016/12/download-3-copy.jpghttp://nationfirst.today/wp-content/uploads/2016/12/download-3-copy.jpgnation_firstspecialमनोरंजनआजकल की वयस्त और मानसिक तनाव भरी जिन्दगी  तथा उचित आहार के ऩा लेने का सीधा प्रभाव मानव के पर्सनल रिलेशन पर भी पडा हैं | मनुष्य की काम शक्ति तो मानो बहुत कम हो गयी हैं |ऐसा केवल पुरुषो के साथ नहीं बल्कि स्त्रिया भी इससे अछूती नहीं...NATION FIRST TODAY